Paatal Lok Review in Hindi – Amazon Prime Web Series

Paatal Lok Review in Hindi: एक बड़ा ही मशहूर गाना है, “दुनिया बनाने वाले क्या तेरे मन में समाई, काहे को दुनिया बनाई”,  वैसे तो सवाल काफी जायज और जरूरी है लेकिन अपनी व्यस्त जिंदगी में हमें  इसका जवाब ढूंढने की फुर्सत कभी नहीं मिलती है| लेकिन अभी मार्केट में एक ऐसा शो आया हैं जिसने पूरी दुनिया को तीन हिस्सों में बांट दिया है|

भगवान जो स्वर्ग में बैठकर दुनिया चलाते हैं, इंसान तो धरती पर भगवान के नौकर हैं, और आखिरी में पाताल लोक के कीड़े जो कभी कभी इंसानों को काट लेते हैं जिनसे शायद भगवान भी डरता है क्या सोच रहे हैं|  आप इन तीनों में से कौन से वाले हैं? घबराइए मत सारे सवालों के जवाब मिलेंगे बस दिल को थोड़ा मजबूत और दिमाग को थोड़ा खोल कर रखिएगा, क्योंकि आज काफी सारे चेहरों से नकाब हटने वाले हैं|  हेलो फ्रेंड्स वेलकम टू Pataal Lok Review.

Also View: Top 10 Best Netflix Movies in Hindi

Paatal Lok Review in Hindi – Amazon Prime Web Series

सबसे पहले दो  जरूरी बातें जिनके बारे में जान लेना काफी जरूरी है|  पहली की यह शो आप अमेज़न प्राइम पर देख सकते हो, टोटल 9 एपिसोड 40-45 मिनट लंबे है|  अगर एक ही दिन में शो को निपटाना चाहते हैं तो लगभग 7 घंटे देने पड़ेंगे|  दूसरी है कि पाताल लोक में मारकाट से लेकर गाली, और काफी कुछ ऐसा देखने को मिलेगा जिसको फैमिली के साथ आप देखना पसंद नहीं करोगे|  अगर गलती हो गई तो बाद में आपका चेहरा टमाटर की तरह लाल पड़ सकता है|

Paatal Lok Review in Hindi:

इस बार कहानी एक मर्डर की तैयारी के साथ जुड़ी हुई है जिसका शिकार बनने वाले हैं एक मशहूर न्यूज़ चैनल के टीवी एंकर Sanjeev Mehra, जिनको आप स्वर्ग में बैठा हुआ भगवान मान सकते हो जो मीडिया की दुनिया पर राज करते हैं| यह पूरे देश में गवर्नमेंट के खिलाफ आवाज उठाने में काफी आगे रहते हैं जिस वजह से अक्सर इनको सोशल मीडिया पर ट्रोलिंग और जान से मारने की धमकियां मिलती रहती हैं|

प्लॅनिंग का कनेक्शन जुड़ा हुआ है चार अजीबोगरीब लोगों के साथ जिनके पास में काफी कुछ ऐसा छुपा है जिसने इनको पाताल लोक का कीड़ा बनने के लिए मजबूर कर देता है| पहला है Tope Singh “Chaaku” नाम का एक अतरंगी सा लड़का जो अपने गांव में 3 लोगों को चाकू से काटने के बाद दिल्ली में छुपकर नॉर्मल जिंदगी गुजार रहा है, दूसरा कबीर है जो वैसे तो खुद को हिंदू बताता है लेकिन नाम के पीछे लगा हुआ M और उसके बोलने का तरीका किसी साजिश की तरफ इशारा कर रहा है, तीसरी है मैरी जो खुद को बेकसूर साबित करने पर तुली हुई है और बाकी तीनों से किसी भी तरीके के कनेक्शन से साफ साफ इंकार कर रही है, चौथा और सबसे खतरनाक है Vishal Tyagi/ Hathoda Tyagi नाम का एक खतरनाक गैंगस्टर जो UP पुलिस की मोस्ट वांटेड लिस्ट में काफी ऊपर आता है, और इसका सबसे पसंदीदा हथियार है हथोड़ा जिससे अब तक यह  45 लोगों की जान ले चुका है|

संजीव मेहरा और इन चारों की प्लानिंग के बीच मैं खड़े हुए हैं हाथीराम नाम की एक मामूली से पुलिस इंस्पेक्टर जो जल्द से जल्द केस को सॉल्व करके पुलिस डिपार्टमेंट में अपनी काबिलियत साबित करना चाहते हैं|

कहानी में ट्विस्ट तब आता है जब Hathiram Chaudhary के हाथ कुछ ऐसे सबूत लगते हैं, जो केस का कनेक्शन देश को चलाने वाले कुछ मालामाल बिजनेसमैन और कुछ पॉवरफुल पॉलिटिशन के साथ जोड़ देता है|  इसके बाद बड़ी ही चालाकी से हाथीराम को कैसे हटा कर पूरी पड़ताल सीबीआई के हवाले कर दी जाती है, जो लोगों के सामने एक मनगढ़ंत और झूठी कहानी बनाकर गवर्नमेंट को पब्लिक का हीरो साबित कर देती है, जिसमे इंसानियत और इंसाफ जैसे शब्द का क़त्ल हो जाता है| 

क्या हाथीराम सिस्टम और सरकार के खिलाफ जाकर केस के पीछे छुपे हुए असली मकसद का पता लगा पाएंगे? या फिर बड़े-बड़े नेता जी और पैसे वालों से पंगा लेना इनकी जिंदगी की सबसे बड़ी गलती साबित होगी? क्या पाताल लोक के कीड़े हकीकत में उतने ही घिन्होंने और खतरनाक है जितना हमको बताया जाता है? या फिर लोगों के दिमाग के साथ खेलकर इन कीड़ों का इस्तेमाल से सरकार का नाम चमकाने के लिए होता है ? और सबसे बड़ा सवाल की संजीव  मेहरा की मौत की कहानी का मास्टरमाइंड है कौन? कोई पॉलिटिशन, टेररिस्ट या फिर बिजनेसमैन? और सबसे ज्यादा फायदा किस को पहुंचेगा? इन सभी सवालों के जवाब देने का काम करती है Paatal Lok Web-Series.

शो की सबसे बड़ी खासियत छुपी हुई है उसके बैकग्रॉउंड में डाली गई स्टोरीज में जो कीड़ों से लेकर इंसान और इंसान से लेकर स्वर्ग में बैठे भगवान, इन तीनों को आपस में जोड़ने का काम करती हैं| 

हाथीराम का पास्ट, संजीव मेहरा का प्रेजेंट और सबसे दमदार है उन चार कीड़ो के किस्से जिनको पाताल लोक से गिरफ्तार किया गया है|  इन चारों की कहानी की मदद से ही सीरीज में सस्पेंस और मिस्ट्री का बेहतरीन खेल खेला गया है|  बिना डरे हुए कुछ कॉंट्रोवर्शियल टॉपिक को भी खुलकर सामने रखा गया है, जिसके बारे में बात करने से भी असली दुनिया में डर सा लगता है| हिंदू, मुस्लिम का इस्तेमाल करके है किस तरीके से लोगों को बांटा जाता है, और बाद में पॉलिटिक्स के नाम पर उनको चूना लगा दिया जाता है|

किसी जमाने में हमारे देश का हीरो कहा जाने वाला मीडिया, जो अब बस बिकाऊ साइड एक्टर बनकर रह गया है और पैसों के लिए रोज अपनी बोली लगाता है| और देश का लाचार पुलिस सिस्टम जो बस गवर्नमेंट के पॉवरफुल लोगों के हाथ की कठपुतली बनकर रह गया है| यह सब कुछ खुल्लम-खुल्ला चाँटे की तरह प्रेजेंट किया गया है जो सिर्फ उन लोगों के गाल पर पड़ेगा जो नफरत के धंधे से अपनी दुकान चलाते हैं| क्या पता इस शो को देखने के बाद उनको थोड़ी सी शर्म और अकल दोनों आ जाए|  शर्म की बात हो ही रही है तो फिर Amazon Prime को भी Four More Shots जैसे बिना सर पैर वाले शो की जगह Jaideep Ahlawat, Neeraj Kabi और Abhishek Banerjee जैसे एक्टर्स को ज्यादा मौका देना चाहिए जिन्होंने Pataal Lok के अंदर जबरदस्त एक्टिंग से जान फूंक दी है|

Pataal Lok शो का X फैक्टर साबित होता है इसमें डाला गया इंसान और जानवर के बीच प्यार का एक स्पेशल बॉन्ड जो पूरी कहानी को पलट कर रख देता है, और पाताल लोक की इज्जत आपकी आंखों में डबल हो जाती है| और हां पूरा शो सिर्फ पॉलिटिक्स के बारे में है ऐसा बिल्कुल भी नहीं है, Father-Son और Husbad-Wife रिलेशनशिप्स को भी कहानी में Parallel चलाने की कोशिश की गई है| जिसमें आपको Family की असली कीमत समझ आ जाती है|

कम शब्दों मैं बोले तो Pataal Lok एक दमदार शो हैं जो शायद Sacred Games और Mirzapur जैसी मशहूर सीरीज को टक्कर देने की पूरी ताकत रखता है, और बिना डरे हुए देश के ठेकेदारों से पंगा भी लेता है|

Also View: Super Deluxe Movie | Full Story & Ending Explained In Hindi

Paalal Lok Cast:

Neeraj KabiSanjeev Mehra
Jaideep AhlawatHathiram Chaudhary
Gul PanagRenu Chaudhary
Abhishek BanerjeeVishal “Hathoda” Tyagi
Swastika MukherjeeDolly Mehra
Ishwak SinghImran Ansari
Sandeep MahajanDahiya
Jagjeet SandhuTope Singh “Chaaku”
Asif KhanKabir
Mairembam Ronaldo SinghMary Lyngdoh or Chini
Niharika Lyra DuttSara Matthews
Bodhisattva SharmaSiddharth Chaudhary
Anindita BoseChanda Mukherjee
Vipin SharmaDCP Bhagat
Asif BasraJai Malik
Manish ChoudharyVikram Kapoor
Akash KhuranaSingh Saab
Rajesh SharmaGwala Gujjar
Anup JalotaBalkishan Bajpayee
Amit RajJournalist

Leave a Comment